Skip to content
Home » Omicron Variant: New Coronavirus Variant of Concern

Omicron Variant: New Coronavirus Variant of Concern

Omicron Variant: New Coronaviru Variant of Concern, Chinese Virus

Omicron Variant. हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोनावायरस के प्रकार B.1.1.529 को चिंता के एक प्रकार के रूप में नामित किया है और इसे Omicron नाम दिया गया है.

24 नवंबर 2021 को पहली बार दक्षिण अफ्रीका से WHO को Omicron variant की सूचना दी गई थी.

Omicron Variant latest News update

December 2, 2021 9:11:50 PM

Two cases of Omicron variant detected in Karnataka. Out of two cases one case is of a 46-year-old male doctor at a private hospital in Bengaluru, and the other male is a 66-year-old South African national, who returned home last week.

Five contacts of the doctor have also tested positive and are under quarantine at a government hospital in Bengaluru. Their samples have also now been sent for genome sequencing and detais awaited..

According to joint Secretary of the Union Home Ministry Lav Agarwal, both cases have been identified in Karnataka and no severe symptoms found.

we will provide more updates on this topic..

Omicron variant cases in india: 02

Omicron Variant

वायरस के DNA में बदलाव को ‘म्युटेशन’ कहा जाता है, और म्युटेशन ज्यादा होने पर वायरस नया रूप लेता है. एक या एक से अधिक नए म्यूटेशन वाले किसी भी वायरस को मूल वायरस का “संस्करण (Variant)” कहा जा सकता है.

B.1.1.529 यह SARS-CoV-2 वायरस का एक नया वेरिएंट है, जिसका नाम Omicron रखा गया है, और यह ‘वैरिएंट ऑफ़ कंसर्न’ की लिस्ट में है.

Omicron Variant of concern (वैरिएंट ऑफ़ कंसर्न)

B.1.1.529- Omicron Variant

“एक प्रकार जिसके लिए फैलाव में वृद्धि, अधिक गंभीर बीमारी (जैसे, अस्पताल में भर्ती या मृत्यु में वृद्धि), पिछले संक्रमण या टीकाकरण के दौरान उत्पन्न एंटीबॉडी द्वारा बेअसर करने में कमी, उपचार या टीकों की प्रभावशीलता में कमी, या नैदानिक ​​पहचान विफलताओं का प्रमाण है” – US centers for disease control and prevention

TAG-VE

Technical Advisory Group on SARS-CoV-2 Virus Evolution (TAG-VE) विशेषज्ञों का एक स्वतंत्र समूह है जो कोरोनावायरस के विकास की निगरानी, मूल्यांकन और आकलन करता है।

सबूतों और शोध के आधार पर TAG-VE ने WHO को सलाह दी है कि इस प्रकार को Variant of Concern (VOC) के रूप में नामित किया जाना चाहिए, और WHO ने B.1.1.529 को VOC के रूप में नामित किया है.

Transmissibility: यह अभी तक स्पष्ट नहीं है कि डेल्टा सहित अन्य प्रकारों की तुलना में ओमाइक्रोन अधिक फैलता है या नहीं (जैसे, एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में अधिक आसानी से फैलता है)

हालाँकि कुछ रिपोर्ट्स यह भी बताती है की यह वायरस अन्य वायरस के मुकाबले ६ गुना तेजी से फैलता है.
लेकिन आपको वायरस से और फेक न्यूज़ दोनों से सतर्क रहना है.

इस वायरस से सम्बंधित किसी भी जानकारी की पुष्टि के लिखे आप WHO या भारत सरकार की Websites (www.mohfw.gov.in) को ही फॉलो करे.

कोरोना-वायरस के लिए हेल्पलाइन नंबर. Click here.

Recommended actions for people

covid-19 measures

COVID-19 वायरस के प्रसार को कम करने के लिए निचे दिए गए नियमों का पालन करे

  1. हाथ साफ रखें
  2. दूसरों से कम से कम 1 मीटर की शारीरिक दूरी बनाए रखें
  3. अच्छी फिटिंग वाला मास्क पहनें
  4. वेंटिलेशन में सुधार के लिए खिड़कियां खोलें
  5. खराब हवादार या भीड़-भाड़ वाली जगहों से बचें
  6. टीका लगवाएं
  7. सरकार के निर्देशानुसार सभी नियमों का पालन करे

Situation in India

भारत में अभी तक Omicron Coronavirus से संक्रमित मामले नहीं मिले है.

केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के ओमाइक्रोन प्रकार के प्रसार को रोकने के लिए travel guidelines जारी की हैं

तथा जिन देशों में Omicron Virus के मामलों का पता चला है, ऐसे देशों की ‘At Risk’ नामक एक सूची भी जारी की है. जिसमे UK, Europe और 11 देश – दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, चीन, मॉरीशस, बोत्सवाना, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इज़राइल – “At Risk” हैं

Rules for passengers arriving from ‘At Risk’ countries

जोखिम वाले’ देशों से यात्रा करने वाले या पारगमन करने वाले यात्रियों को भारत आने पर RT-PCR परीक्षण से गुजरना होगा और airport छोड़ने या फ्लाइट लेने से पहले परिणामों की प्रतीक्षा करनी होगी.

यदि यात्रि वास्तव में Omicron virus से संक्रमित हैं, ऐसे यात्रियों को Isolation के लिए एक चिकित्सा सुविधा में ले जाया जाएगा, जहां उन्हें तब तक रहने की आवश्यकता होगी जब तक उनकी रिपोर्ट Negative नहीं आती.

Negative report वाले लोगों के लिए, उन्हें होम क्वारंटाइन में रहना होगा और आठवें दिन एक और परीक्षण करना होगा. यदि वे Positive हैं, तो उन्हें कोविड -19 हेल्पलाइन पर जानकारी देनी होंगी.

स्वास्थ्य मंत्रालय दिशानिर्देशों के अनुसार दिए गए नियम १ दिसंबर से लागु किये जायेंगे.

Omicron variant cases in India

भारत में अभी तक Omicron Corona variant से संक्रमित मामले नहीं मिले है.

हाल ही में दक्षिण अफ्रीका से महाराष्ट्र के ठाणे जिले के डोंबिवली (KDMC) लौटे एक व्यक्ति कोरोनावायरस/Covid-19 के लिए Positive पाया गया है. लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं हुई है कि मरीज Omicron Positive है या नहीं.

व्यक्ति के नमूने Genome Sequencing के लिए भेजे जा रहे हैं ताकि Omicron प्रकार की उपस्थिति की जांच की जा सके.

ओमिक्रॉन वेरिएंट क्या है?

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोनावायरस के प्रकार B.1.1.529 को चिंता के एक प्रकार के रूप में नामित किया है और इसे Omicron नाम दिया गया है. ऑमिक्रॉन ग्रीक वर्णमाला का 15 वां अक्षर है और ग्रीक अंकों की प्रणाली में इसका मान 70 होता है.

‘वेरिएंट ऑफ़ कंसर्न’ का क्या अर्थ है?

“एक प्रकार जिसके लिए फैलाव में वृद्धि, अधिक गंभीर बीमारी (जैसे, अस्पताल में भर्ती या मृत्यु में वृद्धि), पिछले संक्रमण या टीकाकरण के दौरान उत्पन्न एंटीबॉडी द्वारा बेअसर करने में कमी, उपचार या टीकों की प्रभावशीलता में कमी, या नैदानिक ​​पहचान विफलताओं का प्रमाण है”

क्या डेल्टा प्रकार की तुलना में ओमिक्रॉन अधिक तेजी से फैलता है?

WHO के अनुसार, अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि नया Covid19 वैरिएंट, Omicron यह डेल्टा और अन्य वेरिएंट की तुलना में अधिक पारगम्य या गंभीर है या नहीं.

Follow us for कोरोना समाचार / Coronavirus news, Thank you Coronavirus Helpers.

Covid-19, #Omicronvariant, #Coronavirus, #LargestVaccinationDrive, #IndiaFightsCorona